आइडिया सेल्यूलर का चौथी तिमाही घाटा तीन गुना बढ़कर 930.6 करोड़ रुपये

इसी तरह मार्च तिमाही में कंपनी का परिचालन कारोबार भी 24.47 प्रतिशत घटकर 6,137.3 करोड़ रुपये रह गया. 

आइडिया सेल्यूलर का चौथी तिमाही घाटा तीन गुना बढ़कर 930.6 करोड़ रुपये

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: दूरसंचार कंपनी आइडिया सेल्यूलर का शुद्ध घाटा 2017-18 की चौथी तिमाही में लगभग तिगुना होकर 930.6 करोड़ रुपये हो गया. कंपनी को एक साल पहले इसी तिमाही में 325.6 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था. इसी तरह मार्च तिमाही में कंपनी का परिचालन कारोबार भी 24.47 प्रतिशत घटकर 6,137.3 करोड़ रुपये रह गया. 

वहीं समूचे वित्त वर्ष 2017-18 के लिए घाटा बढ़कर 4,139.9 करोड़ रुपये हो गया जो कि 2016-17 में 404 करोड़ रुपये था. पूरे साल के दौरान कंपनी की परिचालन आय घटकर 28,278.9 करोड़ रुपये रह गई जो कि पूर्व वित्त वर्ष में 36,676.8 करोड़ रुपये रही थी. 

कंपनी ने अपने वित्तीय निष्पादन में इस गिरावट के लिए कडी प्रतिस्पर्धा व नियामकीय बाधाओं को जिम्मेदार ठहराया है. इसके साथ ही उसने उम्मीद जताई है कि वोडाफोन के साथ उसका विलय सौदा जून 2018 तक सिरे चढ़ जाएगा.