आईसीआईसीआई बैंक को 120 करोड़ रुपये का घाटा

हालांकि 30 जून को खत्म हुई तिमाही में बैंक की ब्याज आय बढ़कर 6,102 करोड़ रुपये हो गई, जोकि वित्त वर्ष 2016-17 की पहली तिमाही में 5,590 करोड़ रुपये थी. 

आईसीआईसीआई बैंक को 120 करोड़ रुपये का घाटा

आईसीआईसीआई बैंक.

मुंबई:

वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में निजी बैंक आईसीआईसीआई बैंक ने एकल आधार पर 120 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया है. बैंक ने पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 2,049 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया था. हालांकि 30 जून को खत्म हुई तिमाही में बैंक की ब्याज आय बढ़कर 6,102 करोड़ रुपये हो गई, जोकि वित्त वर्ष 2016-17 की पहली तिमाही में 5,590 करोड़ रुपये थी. 

आईसीआईसीआई बैंक ने एक बयान में कहा, "वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में बैक का ब्याज मार्जिन 3.19 फीसदी रहा, जबकि वित्त वर्ष 2017-18 की पहली तिमाही में यह 3.23 फीसदी थी."

बयान के मुताबिक, बैंक का शुद्ध एनपीए (गैर-निष्पादिथ परिसंपत्तियां या फंसे हुए कर्जे) अनुपात घटकर 30 जून को समाप्त तिमाही में 4.19 फीसदी रही, जबकि 31 मार्च को समाप्त तिमाही में यह 4.77 फीसदी थी.

बयान में कहा गया, "समीक्षाधीन तिमाही में बैंक का एनपीए 4,036 करोड़ रुपये रहा, जो कि पिछली 11 तिमाहियों में सबसे कम है. भारतीय रिजर्व बैंक के दिशा निर्देशों के मुताबिक वर्तमान एनपीए के लिए अतिरिक्त प्रावधान (फंसे कर्ज की भरपाई) 5,971 करोड़ रुपये का किया गया, इससे चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में बैंक ने कुल 120 करोड़ का घाटा दर्ज किया है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com