This Article is From Jan 18, 2020

HDFC बैंक का शुद्ध लाभ तीसरी तिमाही में 33 प्रतिशत बढ़कर 7,417 करोड़ रुपये पर पहुंचा

शुद्ध आय 12,576.8 करोड़ रुपये से बढ़कर 14,172.9 करोड़ रुपये पर पहुंच गई, ऋण वितरण में 19.9 प्रतिशत की वृद्धि

HDFC बैंक का शुद्ध लाभ तीसरी तिमाही में 33 प्रतिशत बढ़कर 7,417 करोड़ रुपये पर पहुंचा

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक का शुद्ध मुनाफा चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 32.8 प्रतिशत बढ़कर 7,416.5 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. बैंक ने शनिवार को इसकी जानकारी दी. बैंक ने एक बयान में कहा कि पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में उसे 5,585.9 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था.

बैंक ने कहा कि आलोच्य तिमाही के दौरान उसकी कुल आय साल भर पहले के 30,811.27 करोड़ रुपये से बढ़कर 36,039 करोड़ रुपये पर पहुंच गई. बैंक ने कहा, ‘‘आलोच्य तिमाही के दौरान ब्याज से हुई शुद्ध आय 12,576.8 करोड़ रुपये से बढ़कर 14,172.9 करोड़ रुपये पर पहुंच गई. इसका कारण ऋण वितरण में 19.9 प्रतिशत की तथा जमा में 25.2 प्रतिशत की वृद्धि होना है.''

इस दौरान सकल गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) 1.38 प्रतिशत से बढ़कर 1.42 प्रतिशत पर पहुंच गई. शुद्ध एनपीए भी 0.42 प्रतिशत से बढ़कर 0.48 प्रतिशत पर पहुंच गया. इसके कारण त्वरित प्रावधान समेत एनपीए के लिए बैंक का प्रावधान भी 2,211.53 करोड़ रुपये से बढ़कर 3,043.56 करोड़ रुपये पर पहुंच गया.

बैंक ने कहा कि आलोच्य अवधि में अन्य स्रोतों से हुई आय 4,921.01 करोड़ रुपये से बढ़कर 6,669.3 करोड़ रुपये पर पहुंच गई. बैंक की बैलेंस शीट का आकार भी 11,68,556 करोड़ रुपये से बढ़कर 13,95,336 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. बैंक का कुल जमा 25.2 प्रतिशत बढ़कर 10,67,433 करोड़ रुपये और कुल वितरित ऋण 19.9 प्रतिशत बढ़कर 9,36,300 करोड़ रुपये पर पहुंच गया.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
.