अगले वित्त वर्ष में सरकारी GeM पोर्टल से एक लाख करोड़ रुपये से अधिक की खरीद होने की उम्मीद

कुमार ने कहा, ‘‘मार्च 2021 तक रेल मंत्रालय के शामिल होने के साथ जीईएम अगले वित्त वर्ष में एक लाख करोड़ रुपये से अधिक के ऑर्डर मूल्य की ओर बढ़ रहा है, जो तीन गुना वृद्धि को दर्शाता है.’

अगले वित्त वर्ष में सरकारी GeM पोर्टल से एक लाख करोड़ रुपये से अधिक की खरीद होने की उम्मीद

2020-21 में ऑर्डर मूल्य 37,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

सार्वजनिक खरीद पोर्टल जीईएम से वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान वस्तुओं और सेवाओं की एक लाख करोड़ रुपये से अधिक की खरीद होने की उम्मीद है. इस दौरान रक्षा मंत्रालय और पीएसयू से खरीदारी तेजी से बढ़ने का अनुमान है. सरकारी ई-मार्केट (जीईएम) पोर्टल की शुरुआत अगस्त 2016 में हुई थी, जहां से सभी सरकारी मंत्रालय एवं विभाग ऑनलाइन खरीदारी कर सकते हैं. जीईएम के सीईओ तलीन कुमार ने कहा कि 2020-21 में ऑर्डर मूल्य 37,000 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है, जो इससे पिछले साल 22,896 करोड़ रुपये था. 

कुमार ने कहा, ‘‘मार्च 2021 तक रेल मंत्रालय के शामिल होने के साथ जीईएम अगले वित्त वर्ष में एक लाख करोड़ रुपये से अधिक के ऑर्डर मूल्य की ओर बढ़ रहा है, जो तीन गुना वृद्धि को दर्शाता है.''

सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों (पीएसयू) ने इस साल अब तक जीईएम पर 3,372 करोड़ रुपये से अधिक की वस्तुओं और सेवाओं की खरीद की है. इसी तरह रक्षा मंत्रालय ने इस साल अब तक 3,406 करोड़ रुपये से अधिक की खरीदारी की.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)