एफपीआई निकासी 10 साल के उच्च स्तर पर

इस साल की पहली छमाही में पूंजी बाजारों से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की निकासी करीब 48,000 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है. यह पिछले 10 साल का उच्च स्तर है. 

एफपीआई निकासी 10 साल के उच्च स्तर पर

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

विदेशी निवेशकों द्वारा भारतीय पूंजी बाजारों से धन की निकासी का क्रम जारी है. इस साल की पहली छमाही में पूंजी बाजारों से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की निकासी करीब 48,000 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है. यह पिछले 10 साल का उच्च स्तर है. 

डिपॉजिटरीज के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार जनवरी से जून की अवधि के बीच एफपीआई ने ऋण बाजार से 41,433 करोड़ रुपये और शेयर बाजार से 6,430 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी की है. इस प्रकार कुल निकासी 47,836 करोड़ रुपये रही. यह जनवरी-जून 2008 के बाद अब तक की सबसे बड़ी निकासी है. उस दौरान ऋण और शेयर बाजार से कुल 24,758 करोड़ रुपये की निकासी की गई थी. 

हालांकि वर्तमान निकासी पूरे 2008 में हुई 41,216 करोड़ रुपये की निकासी से बहुत अधिक है. गौरतलब है कि 2008 में दुनिया में आर्थिक संकट छाया था.

Newsbeep