एफपीआई ने जून में भारतीय बाजारों से 5,500 करोड़ रुपये निकाले

वैश्विक व्यापार युद्ध को लेकर चिंता तथा अमेरिकी फेडरल रिजर्व के आक्रामक रुख के संकेतकों से विदेशी निवेशक निकासी कर रहे हैं. 

एफपीआई ने जून में भारतीय बाजारों से 5,500 करोड़ रुपये निकाले

शेयर बाजार.

नई दिल्ली: विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने इस महीने अभी तक भारतीय पूंजी बाजारों से 5,500 करोड़ रुपये की निकासी की है. वैश्विक व्यापार युद्ध को लेकर चिंता तथा अमेरिकी फेडरल रिजर्व के आक्रामक रुख के संकेतकों से विदेशी निवेशक निकासी कर रहे हैं. 

इससे पिछले दो माह के दौरान एफपीआई ने भारतीय पूंजी बाजारों (इक्विटी और ऋण) से कुल मिलाकर 45,000 करोड़ रुपये की निकासी की थी. वहीं मार्च में इस वर्ग के निवेशकों ने स्थानीय पूंजी बाजार में कुल मिला कर 2,600 करोड़ रुपये का निवेश किया था. 

डिपाजिटरी के आंकड़ों के अनुसार एफपीआई ने एक से 15 जून के दौरान स्थानीय शेयरों में 831 करोड़ रुपये के शुद्ध बिकवाल रहे . वहीं इस दौरान उन्होंने ऋण या बांड बाजारों से 4,683 करोड़ रुपये निकाले. इस तरह उन्होंने कुल मिलाकर 5,514 करोड़ रुपये की निकासी की. 

बीएनबी परिबा म्यूचुअल फंड के वरिष्ठ कोष प्रबंधक (इक्विटीज) अभिजीत डे ने कहा, ‘‘निवेशक चिंतित हैं क्योंकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के 50 अरब डॉलर के सामान पर शुल्क लगाने को मंजूरी दे दी है.’’
More News