चौथी औद्योगिक क्रांति में बड़ी भूमिका निभा सकता है भारत : WEF

विश्व आर्थिक मंच के अध्यक्ष बॉर्ज ब्रेंडे ने यह बात कही. हालांकि उन्होंने कहा कि इसके लिए देश को आधारभूत संरचना एवं बिजली की उपलब्धता में सुधार तथा मौद्रिक एवं वित्तीय नीतियों में स्थिरता की जरूरत होगी.

चौथी औद्योगिक क्रांति में बड़ी भूमिका निभा सकता है भारत : WEF

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: युवा श्रमबल, अंग्रेजी बोलने में सक्षम बड़ी आबादी तथा इंटरनेट उपयोक्ताओं की दूसरी सर्वाधिक संख्या के दम पर भारत डिजिटन प्रौद्योगिक आधारित चौथी वैश्विक औद्योगिक क्रांति में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है. विश्व आर्थिक मंच के अध्यक्ष बॉर्ज ब्रेंडे ने यह बात कही. हालांकि उन्होंने कहा कि इसके लिए देश को आधारभूत संरचना एवं बिजली की उपलब्धता में सुधार तथा मौद्रिक एवं वित्तीय नीतियों में स्थिरता की जरूरत होगी.

ब्रेंडे ने कहा, ‘‘भारत चौथी वैश्विक औद्योगिक क्रांति में बड़ी भूमिका निभा सकता है क्योंकि यहां की आधी से अधिक आबादी 27 साल से कम उम्र की है. इसके अलावा देश में अंग्रेजी बोलने वाली तथा मोबाइल पर इंटरनेट का इस्तेमाल करने वाली दूसरी सबसे बड़ी आबादी है.’’

उन्होंने कहा, हालांकि देश कौशल एवं शिक्षा के मामले में काफी पीछे रह जाता है. उन्होंने कहा कि भारत चौथी औद्योगिक क्रांति का नेतृत्व कर सकता है तथा इसके साथ ही अपनी वृद्धि एवं विकास की गुणवत्ता तथा टिकाऊपन को बेहतर कर सकता है.

विश्व आर्थिक मंच ने पहले ही मुंबई में सेंटर फोर दी फोर्थ इंडस्ट्रियल रिवॉल्यूशन बनाने के लिए भारत सरकार के साथ भागीदारी किया हुआ है. ब्रेंडे ने कहा कि यह केंद्र इस साल के उत्तरार्द्घ में शुरू हो जाएगा.
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com