Profit

अमेरिका में ब्याज दर बढ़ने से घरेलू बाजारों में सात दिन की तेजी थमी, सेंसेक्स 53 अंक टूटा

अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने इस साल चौथी बार मुख्य ब्याज दर बढ़ाने की घोषणा की है. अमेरिका में अब ब्याज दर 2008 के बाद के उच्चतम स्तर पर है.

 Share
EMAIL
PRINT
COMMENTS
अमेरिका में ब्याज दर बढ़ने से घरेलू बाजारों में सात दिन की तेजी थमी, सेंसेक्स 53 अंक टूटा
मुंबई: 

अमेरिका में फेडरल रिजर्व के ब्याज दर बढ़ाने के बाद वैश्विक बाजारों में तेजी का रुख पलटने से घरेलू शेयर बाजारों की सात दिनों की तेजी पर गुरुवार को लगाम लग गयी. बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 250 अंक से अधिक गिर गया. यह पिछले दिवस के 36,484.33 अंक के मुकाबले गिरकर 36,321.18 अंक पर खुला. सेंसेक्स 36,475.52 अंक का उच्चतम स्तर तथा 36,202.90 अंक का निचला स्तर भी छुआ. हालांकि इसने बाद में गिरावट को कुछ हद तक कम किया और कारोबार की समाप्ति पर सेंसेक्स 52.66 अंक यानी 0.14 प्रतिशत की नरमी के साथ 36,431.67 अंक पर बंद हुआ. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 15.60 अंक यानी 0.14 प्रतिशत गिरकर 10,951.70 अंक पर बंद हुआ.

अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने इस साल चौथी बार मुख्य ब्याज दर बढ़ाने की घोषणा की है. अमेरिका में अब ब्याज दर 2008 के बाद के उच्चतम स्तर पर है. इससे वैश्विक बाजारों की तेजी थम गयी. कारोबारियों ने कहा कि रुपये में मजबूती तथा कच्चे तेल में नरमी से घरेलू बाजारों की गिरावट पर कुछ लगाम रही.

इसके अलावा विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की ताजा लिवाली तथा स्मॉलकैप और मिडकैप के सकारात्मक रहने से भी बाजार को समर्थन मिला. बीएसई का मिडकैप 11.09 अंक यानी 0.07 प्रतिशत मजबूत होकर 15,530.54 अंक पर बंद हुआ. इसी तरह स्मॉलकैप भी 17.09 अंक यानी 0.12 प्रतिशत की तेजी के साथ 14,781.67 अंक पर बंद हुआ. बीएसई के सभी 19 समूहों में से 12 समूहों में गिरावट का रुख रहा.

दूरसंचार कंपनियों के शेयर सर्वाधिक 1.17 प्रतिशत गिरे. धातु समूह में भी 1.10 प्रतिशत की गिरावट देखी गयी. सेंसेक्स की कंपनियों में यस बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एशियन पेंट्स, सन फार्मा, टाटा मोटर्स, एलएंडटी और एचडीएफसी बैंक के शेयर लाभ में रहे. इनके शेयर 3.93 प्रतिशत तक चढ़ गये. हालांकि भारती एयरटेल, भारतीय स्टेट बैंक, विप्रो, वेदांता, मारुति सुजुकी, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज को 2.18 प्रतिशत तक नुकसान उठाना पड़ा.

शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार बुधवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने 1,209.21 करोड़ रुपये के शेयरों की शुद्ध लिवाली की. हालांकि घरेलू संस्थागत निवेशक (डीआईआई) 481.46 करोड़ रुपये के शुद्ध बिकवाल रहे. एशियाई बाजारों में जापान का निक्की 2.84 प्रतिशत, हांगकांग का हैंगसेंग 0.94 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.90 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.52 प्रतिशत गिरावट में रहा. यूरोपीय बाजारों में शुरुआती कारोबार में जर्मनी का फ्रैंकफर्ट डीएएक्स 1.08 प्रतिशत, फ्रांस का पेरिस सीएसी40 1.59 प्रतिशत और ब्रिटेन का लंदन एफटीएसई 0.28 प्रतिशत की गिरावट में रहा.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV Beeps - your daily newsletter

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

Top