This Article is From Jan 20, 2020

कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी का असर, डॉलर के मुकाबले रुपया हुआ कमजोर

कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के कारण सोमवार को अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया शुरुआती कारोबार में चार पैसे गिरकर 71.12 रुपये प्रति डॉलर पर रहा.

कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी का असर, डॉलर के मुकाबले रुपया हुआ कमजोर

डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट

मुंबई:

कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों के कारण सोमवार को अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया शुरुआती कारोबार में चार पैसे गिरकर 71.12 रुपये प्रति डॉलर पर रहा. शुक्रवार को रुपया 71.08 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था. हालांकि विदेशी निवेशकों की लिवाली जारी रहने तथा घरेलू शेयर बाजारों के बढ़त में खुलने से रुपये को मदद मिली. प्राथमिक आंकड़ों के अनुसार, शुक्रवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 264.26 करोड़ रुपये की शुद्ध लिवाली की. इस बीच कच्चा तेल 1.14 प्रतिशत की बढ़त लेकर 65.59 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था. 

उधर रिलायंस इंडस्ट्रीज और एचडीएफसी बैंक जैसी बड़ी कंपनियों के मजबूत तिमाही परिणाम के कारण सोमवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स और निफ्टी नये रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गये. बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स एक समय 300 अंक से अधिक की बढ़त लेकर नये सर्वकालिक उच्च स्तर 42,273.87 अंक पर पहुंच गया. हालांकि इसने जल्दी ही तेजी खो दी और 31.32 अंक यानी 0.07 प्रतिशत की बढ़त लेकर 41,976.69 अंक पर चल रहा था.

इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 0.63 प्रतिशत की तेजी के साथ 12,430.50 अंक पर चल रहा था. शुक्रवार को मजबूत तिमाही परिणाम के बाद सोमवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज और एचडीएफसी का शेयर दो प्रतिशत तक की तेजी में रहा.
कारोबारियों के अनुसार, निवेशक शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद जारी हुए तिमाही परिणामों को लेकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं. उन्होंने उच्च स्तर पर मुनाफावसूली भी की है



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)