Coronavirus:मारुति, होंडा, महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा ने कारखानों में उत्पादन ठप किया

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुये मारुति सुजूकी (एमएसआई), महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा और होंडा कार्स सहित देश की कई प्रमुख वाहन विनिर्माता कंपनियों ने देशभर में अपने कारखानों में अगले आदेश तक के लिये उत्पादन कार्य रोक दिया है.

Coronavirus:मारुति, होंडा, महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा ने कारखानों में उत्पादन ठप किया

Coronavirus: मारुति ने अपना उत्पादन ठप किया

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुये मारुति सुजूकी (एमएसआई), महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा और होंडा कार्स सहित देश की कई प्रमुख वाहन विनिर्माता कंपनियों ने देशभर में अपने कारखानों में अगले आदेश तक के लिये उत्पादन कार्य रोक दिया है.दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से फैलने से बचाव के लिये लोगों को अपने घरों में ही रहने को कहा जा रहा है. भारत में भी सरकार ने इसके प्रसार को रोकने के लिये कई एहतियाती कदम उठाये हैं. इसी के मद्देनजर वाहन कंपनियों ने कुछ समय के लिये कारखानों को बंद रखने का फैसला किया है ताकि उनके कर्मचारी घर पर ही रहें और संक्रमण से बच सकें.

देश की सबसे बड़ी कार विनिर्माता कंपनी मारुति सुजूकी इंडिया ने अपने गुड़गांव और मानेसर कारखानों में तुरंत प्रभाव से उत्पादन कार्य रोक दिया. वहीं होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (एचसीआईएल) ने भी 31 मार्च तक देश में स्थित अपने दो कारखानों में गतिविधियां बंद रखने की घोषणा की है.इसी प्रकार महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा (एम एण्ड एम) ने भी महाराष्ट्र में अपने सभी विनिर्माण गतिविधियों को अगले आदेश तक निलंबित रखने की घोषणा की है.वाहन निर्माता कंपनी फिएट ने भी देश में अपने कारखानों में कामकाज को इस माह के अंत तक बंद रखने की घोषणा की है.

दुपहिया वाहन बनाने वाली कंपनी हीरो मोटो कार्प और होंडा मोटरसाइकिल एण्ड स्कूटर इंडिया (एचएमएसआई) ने अपने सभी विनिर्माण कारखानों में कामकाज निलंबित कर दिया है. मारुति सुजूकी ने रविवार को जारी वक्तव्य में कहा है, ‘‘कंपनी अपने हरियाणा के गुड़गांव और मानेसर स्थित कारखानों और कार्यालयों में कामकाज को अगले आदेश तक के लिये तुरंत प्रभाव से बंद कर रही है.'' कंपनी ने कहा है कि उसका हरियाणा के ही रोहतक स्थित शोध और विकास केन्द्र भी इस दौरान बंद रहेगा. कंपनी ने कहा है कि कामकाज बंद रखने की यह अवधि सरकार की नीति पर निर्भर करेगी.

इसी प्रकार एचसीआईएल ने कहा है कि उसके ग्रेटर नोएडा, उत्तर प्रदेश और तापुकारा, राजस्थान स्थिति कारखानों में उत्पादन कार्य 23 से 31 मार्च तक निलंबित रहेगा. कंपनी ने कहा है कि उसकी एक अप्रैल से कारखाना चालू करने की इच्छा है लेकिन यह सब सरकार की तरफ से मिलने वाले निर्देशों पर निर्भर करेगा. महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा ने भी कहा है कि उसने अपने नागपुर कारखाने में विनिर्माण गतिविधियों को तुरंत प्रभाव से रोक दिया है. उसके चकन (पुणे) और कांडीवली (मुंबई) के कारखानों में भी सोमवार से उत्पादन कार्य बंद रहेगा. कंपनी के देशभर में स्थित दफतरों में घर से काम कराया जा रहा है.

कंपनी ने कहा है कि रविवार को कंपनी के किसी भी कारखाने में कामकाज नहीं होता है. वाहन विनिर्माता कंपनी एफसीए की संयुकत उद्यम कंपनी फिएट इंडिया आटोमोबाइल प्रा. लिमिटेड की रंजनगांव स्थित कारखाने में भी कामकाज अस्थाई तौर पर निलंबित किया गया है. एमजी मोटर इंडिया ने कहा है कि उसके हलोल (गुजरात) कारखाने में उत्पादन कार्य 25 मार्च तक बंद रहेगा.दुपहिया वाहन क्षेत्र की प्रमुख कंपनी हीरो मोटोकार्प ने कहा है कि उसने उत्पादन कार्य 31 मार्च तक के लिये रोका है. कंपनी के दुनियाभर के अन्य देशों --भारत के अलावा कोलंबिया और बांग्लादेश -- में भी 31 मार्च तक के लिये गतिविधियां रोक दी गई हैं. इसके अलावा नीमराणा स्थिति वैश्विक कलपुर्जे केनद्र में भी कामकाज 31 मार्च 2020 तक के लिये रोक दिया गया है.इसी प्रकार एमएसआई ने देश में अपने चारों कारखानों में तुरंत प्रभाव से कामकाज रोक दिया है. उसने कहा है कि कामकाज पर रोक की अवधि सरकारी निर्देश और नीतियों पर निर्भर करेगी.