सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों के विलय के प्रस्ताव पर इस सप्ताह विचार कर सकता है मंत्रिमंडल

केंद्रीय मंत्रिमंडल इस सप्ताह सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों का विलय चार बड़े बैंकों में करने के प्रस्ताव पर विचार कर सकता है, जिससे तय तिथि एक अप्रैल 2020 से इस पर अमल करने की प्रक्रिया को मंजूरी मिल जाएगी.

सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों के विलय के प्रस्ताव पर इस सप्ताह विचार कर सकता है मंत्रिमंडल

बैंकों के विलय पर मंत्रिमंडल इस सप्ताह कर सकता है विचार

नई दिल्ली:

केंद्रीय मंत्रिमंडल इस सप्ताह सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों का विलय चार बड़े बैंकों में करने के प्रस्ताव पर विचार कर सकता है, जिससे तय तिथि एक अप्रैल 2020 से इस पर अमल करने की प्रक्रिया को मंजूरी मिल जाएगी. इस संबंध में अधिसूचना जारी होने पर इन बैंकों के निदेशक मंडलों द्वारा विलय के लिए स्वैप रेशियो को मंजूरी प्रदान की जाएगी. छोटे हितधारकों के हितों की रक्षा के लिए प्रत्येक बैंक को विनियामक मानदंडों का अनुपालन करना होगा.

इस बड़े विलय की घोषणा पिछले साल 30 अगस्त को की गई थी. अधिकारियों ने बताया कि बैंकों द्वारा आवश्यक मूलभूत कार्य पूरा करने के बाद सरकार 10 पीएसयू बैंकों का विलय करके चार बड़े बैंक बनाने के लिए इस सप्ताह के आखिर में अधिसूचना जारी कर सकती है. गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल ही में कहा था सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रस्तावित विलय से कर्मचारियों की नौकरी जाने के खतरे की चिंता को खारिज किया है. उन्होंने कहा है कि विलय के इन निर्णयों से किसी एक कर्मचारी की भी नौकरी नहीं जाएगी.