Profit
होम | बेंकिंग और फाइनेंशियल

बेंकिंग और फाइनेंशियल

  • सार्वजनिक क्षेत्र के 11 बैंकों के प्रमुख मंगलवार को संसदीय समिति के समक्ष पेश होंगे
    सार्वजनिक क्षेत्र के 11 बैंकों के प्रमुख अगले सप्ताह एक संसदीय समिति के समक्ष हाजिर होंगे और बढ़ते फंसे कर्ज तथा धोखाधड़ी के मामलों से उसे अवगत करवाएंगे. सूत्रों ने बताया कि वित्त पर संसद की स्थायी समिति की बैठक मंगलवार को होगी. वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एम वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली यह समिति ‘देश के बैंकिंग क्षेत्र व बैंकों के सामने एनपीए सहित अन्य दिक्कतों’ के मुद्दों पर विचार कर रही है.
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र के सीएमडी 3000 करोड़ के फर्जीवाड़े में गिरफ्तार
    आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने बैंक ऑफ महाराष्ट्र के अध्यक्ष व प्रबंधन निदेशक (सीएमडी) रवींद्र पी. मराठे को 3,000 करोड़ रुपये के फर्जीवाड़े में गिरफ्तार किया है. यह जानकारी बुधवार को एक अधिकारी ने दी. अधिकारी ने बताया कि रवींद्र पी. मराठे ने फर्जी तरीके से पुणे के डीएसके समूह को 3,000 करोड़ रुपये का कर्ज प्रदान किया था.
  • बड़े कर्जों पर रिजर्व बैंक के प्रस्ताव से कोष प्रबंधन में सुधार आयेगा: स्टेट बैंक रिपोर्ट
    बड़े उद्यमों को कारोबार में रोजमर्रा के खर्च के लिए कर्ज जारी करने के संबंध में रिजर्व बैंक के दिशानिर्देशों से जहां एक तरफ कर्ज लेने वालों को अपने नकदी प्रवाह का बेहतर प्रबंधन करने में मदद मिलेगी वहीं बैंक दिन के कारोबार में अपनी नकदी की स्थिति को और अच्छी तरह संभाल सकेंगे. 
  • वित्त मंत्री सार्वजनिक क्षेत्र के 13 बैंकों के प्रमुखों के साथ आज करेंगे बैठक
    वित्त मंत्री पीयूष गोयल सार्वजनिक क्षेत्र के 13 बैंकों के प्रमुखों के साथ मंगलवार को बैठक करेंगे. बैठक का मकसद बैंक क्षेत्र से जुड़े संबंधित मुद्दों का समाधान करना है. सूत्रों के अनुसार बैठक का आयोजन भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) कर रहा है और इसकी अध्यक्षता गोयल करेंगे. 
  • पीएनबी के जानबूझकर का कर्ज न चुकाने वालों का बकाया 15,490 करोड़ रुपये पर पहुंचा
    पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के जानबूझकर का कर्ज न चुकाने वाले (विल्फुल डिफाल्टर) बड़े कर्जदारों पर बकाया मई अंत तक बढ़कर 15,490 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. यह इससे पिछले महीने की तुलना में दो प्रतिशत अधिक है. इसमें वे कर्जदार शामिल हैं जिनपर बैंक का बकाया 25 लाख रुपये या उससे अधिक का है. 
  • महंगा हो रहा है लोन, कुछ बैंकों के बाद बैंक ऑफ इंडिया ने एमसीएलआर दर 0.10% बढ़ाई
    भारतीय स्टेट बैंक, एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई बैंक की राह पर चलते हुए बैंक ऑफ इंडिया ने भी कोष की सीमान्त लागत (एमसीएलआर) आधारित ब्याज दर बढ़ा दी है. बैंक ने विभिन्न परिपक्वता अवधि की एमसीएलआर आधारित दर में 0.10 प्रतिशत की वृद्धि की है. 
  • निवेश, समावेशी वृद्धि के लिए बैंकिंग क्षेत्र की दिक्कतें दूर करना भारत के लिए जरूरी: आईएमएफ
    अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने कहा कि भारत को निवेश एवं समावेशी वृद्धि का समर्थन करने के लिए बैंकिंग क्षेत्र में जारी मौजूदा संकट को दूर करना जरूरी है. आईएमएफ के प्रवक्ता गैरी राइस ने कहा , " बैंकिंग सेक्टर की बैलेंस शीट से जुड़ी दिक्कतों को दूर करना तथा सार्वजनिक बैंकों के प्रदर्शन में सुधार करना भारत के लिए अहम है ताकि निवेश और उसके समावेश वृद्धि के एजेंडे का समर्थन किया जा सके." 
  • रिजर्व बैंक ने बिना दावे की जमा राशि पर कम की ब्याज दर
    जमाकर्ता शिक्षा एवं जागरूकता मद में हस्तांतरित किये गये बगैर दावे की जमा राशि पर ब्याज दर को 0.50 प्रतिशत घटाकर 3.50 प्रतिशत कर दिया गया है. रिजर्व बैंक ने इसकी जानकारी दी. 
  • एयर इंडिया ने बैंकों से मांगा 1,000 करोड़ का शॉर्ट टर्म लोन, जानें क्‍या है वजह
    एयर इंडिया अपने सबसे बुरे दौरे से गुजर रहा है. एयर इंडिया ने एक हज़ार करोड़ के शॉर्ट टर्म लोन का प्रस्ताव रखा है. कंपनी के दस्तावेज़ के मुताबिक, लोन इसी महीने एक या ज़्यादा खेप के माध्यम से निकाला जाएगा, जिसकी अवधि एक साल की होगी. इसके कर्मचारियों को 3 महीने से वेतन नहीं मिला है.
  • लोन हो जाएंगे महंगे, आरबीआई ने रेपो रेट 0.25 प्रतिशत बढ़ाया
    रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की तीन दिन से जारी बैठक आज खत्म हुई. इस बैठक के बाद आरबीआई ने रेपो रेट 0.25 बेसिस प्वाइंट से बढ़ा दिया है. अब यह 6.25 प्रतिशत हो गया है. अब यह तय है कि इससे सभी लोन महंगे हो जाएंगे.
  • आधार से फिंगरप्रिंट स्कैन में आने लगी है दिक्कत, UIDAI ने सुझाए हैं ये नए उपाय
    सरकार की कई योजनाओं में आधार (Aadhaar) लागू किया गया है. यहां तक कि निजी कंपनियां भी अपनी सेवाओं के लिए आधार को ही प्रयोग में ला रही हैं. आसानी से प्रयोगकर्ता का डाटा मिला जाता है और इसकी पुष्टि की जरूरत नहीं रह जाती है. इसी के आधार पर योजनाओं का लाभ कार्ड धारक को मिल रहा है और नए सिम भी कंपनियां दे रही हैं. 
  • एसबीआई, पीएनबी, आईसीआईसीआई बैंक ने बढ़ा दी हैं ब्याज दरें, कर्ज हो गया महंगा
    भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की बैठक से पहले देश के तीन बड़े बैंकों एसबीआई, पीएनबी और आईसीआईसीआई बैंक ने बेंचमार्क ऋण दर यानी कोष की सीमान्त लागत (एमसीएलआर) आधारित दर में 0.1 प्रतिशत की वृद्धि की है. यह दर 1 जून से लागू की गई है. इससे उपभोक्ताओं के लिए कर्ज महंगा हो गया है. 
  • आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति की बैठक आज होगी खत्म, नई दरें हो सकती हैं जारी
    रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की तीन दिन से जारी बैठक के निष्कर्षों पर पेट्रोलियम उत्पादों में तेजी का असर पड़ सकता है. एमपीसी की बैठक चार जून से जारी है और आज इस चर्चा का समापन होगा. रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा था, ‘‘एमपीसी की 2018-19 की दूसरी द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा के लिये 4-6 जून को बैठक होगी. एमपीसी के निर्णय को छह जून 2018 को दोपहर 2.30 मिनट पर वेबसाइट पर डाला जाएगा.’’
  • स्टार्टअप निवेश के लिए नियम बदलेगा एसबीआई
    भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) नयी पीढ़ी की कंपनियों यानी स्टार्टअप में निवेश के लिए अपने नियमों में बदलाव पर विचार रहा है. एसबीआई इसके लिए धन का प्रावधान किए जाने के बावजूद अब तक फिनटेक स्टार्टअप में निवेश नहीं कर सका है.
  • एनपीए-धोखाधड़ी मामला: संसदीय समिति के सामने पेश होंगे शीर्ष बैंक अधिकारी
    सार्वजनिक एवं निजी बैंकों के शीर्ष अधिकारी बैंकिंग धोखाधड़ी तथा बढ़ती गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) के मामले में एक संसदीय समिति को कल जानकारियां देंगे. वीरप्पा मोइली के नेतृत्व वाली संसद की वित्त मामलों से संबंधित स्थायी समिति (वित्त) ने इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए) के अधिकारियों को पेश होने को कहा है. 

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................