Profit
होम | बेंकिंग और फाइनेंशियल

बेंकिंग और फाइनेंशियल

  • एचडीएफसी म्यूचुअल फंड को आईपीओ के लिए सेबी की मंजूरी
    एचडीएफसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी को आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के लिए भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) की मंजूरी मिल गई है. यह देश की सबसे बड़ी म्यूचुअल फंड कंपनी है. कंपनी ने सेबी के पास आईपीओ के लिए दस्तावेज मार्च में जमा कराए थे. 22 जून को कंपनी को इस पर सेबी का ‘निष्कर्ष’ मिल गया है. किसी कंपनी को सार्वजनिक निर्गम लाने के लिए सेबी का निष्कर्ष जरूरी होता है. 
  • नौ विदेशी शाखाओं को बंद करने की प्रक्रिया में है एसबीआई
    भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई SBI) विदेश में अपने परिचालन को तर्कसंगत बनाने के प्रयासों के तहत छह विदेशी शाखाएं बंद कर चुका है और नौ अन्य विदेशी शाखाओं को बंद करने वाला है. बैंक के एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी. 
  • पीएनबी घोटाला: चोकसी ने अदालत में गैर जमानती वॉरंट को रद्द करने को अपील दायर की
    गीतांजलि जेम्स के प्रवर्तक मेहुल चोकसी ने अपने खिलाफ जारी गैर जमानती वॉरंट (एनबीडब्ल्यू) को रद्द करने के लिए एक विशेष अदालत में अपील की. पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के हजारों करोड़ रुपये के घोटाले में आरोपी हैं. c
  • पीएनबी घोटाला: आरोपी ने पीएमएलए अदालत के अधिकार को चुनौती दी
    हजारों करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले के एक आरोपी ने यहां मनी लांड्रिंग रोधक कानून (पीएमएलए) अदालत में अर्जी लगा कर इस मामले की सुनवाई करने के उसके अधिकार क्षेत्र को चुनौती दी और इस मामले को सुनवाई के लिए सीबीआई अदालत में स्थानांतरित किए जाने का आग्रह किया है.
  • वित्त वर्ष 2017-18 में खुदरा ऋण में 25 प्रतिशत वृद्धि : रिपोर्ट
    वित्तवर्ष 2017-18 के दौरान खुदरा ऋण क्षेत्र में तेज वृद्धि देखने को मिली है. टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद एवं व्यक्तिगत ऋण तथा क्रेडिट कार्ड की बढ़ी मांग और संपत्ति की गुणवत्ता में सुधार के कारण इस दौरान ऋण में 25 प्रतिशत की वृद्धि की. c
  • एनपीए बढ़ने के संकेत से बैंकों के शेयर धड़ाम
    रिजर्व बैंक द्वारा गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) की स्थिति बिगड़ने के संकेत देने के बाद बुधवार और फिर गुरुवार को भी बैंकों के शेयरों में भारी बिकवाली हुई. बुधवार को ये छह प्रतिशत तक गिर गये थे. रिजर्व बैंक ने जारी वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट में कहा कि बैंकों के कुल ऋण में एनपीए की हिस्सेदारी के मार्च 2018 के 11.6 प्रतिशत से बढ़कर 2018-19 के अंत में 12.2 प्रतिशत पर पहुंच जाने का अनुमान है.
  • विजय माल्या का बड़ा बयान, कहा - मेरे खिलाफ कोई एजेंडा नहीं तो कर्ज निपटारे की पूरी कोशिश करूंगा
    कर्ज चूक मामले में घिरे शराब कारोबारी विजय माल्या ने कर्नाटक उच्च न्यायालय में अपनी 13,900 करोड़ रुपये की संपत्तियों को बेचने की अनुमति मांगी है, ताकि वह बैंक का कर्ज अदा कर सकें. माल्या ने कहा कि यदि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा उनके इस प्रस्ताव का विरोध किया जाता है तो यह साफ हो जाएगा कि बकाया की वसूली से आगे भी उनके खिलाफ एजेंडा है.
  • मार्च, 2019 तक बैंकों का एनपीए 12 फीसदी से ज्यादा हो जाएगा : आरबीआई
    भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मंगलवार को कहा कि बैंकिंग प्रणाली में कुल गैर निष्पादित परिसंपत्तियां (जीएनपीए) या बुरे ऋण का अनुपात मौजूद वित्त वर्ष के अंत तक मार्च 2018 के 11.6 प्रतिशत से बढ़कर 12.2 प्रतिशत हो सकता है.
  • बैंकिंग क्षेत्र में उतर सकती है एलआईसी, आईडीबीआई बैंक की बहुलांश हिस्सेदारी पर नजर
    देश की बीमा क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी जीवन बीमा निगम (एलआईसी) बैंकिंग क्षेत्र में उतर सकती है. इसके लिए कंपनी की निगाह आईडीबीआई बैंक की बहुलांश हिस्सेदारी पर है. सूत्रों ने कहा कि बैंक का बही खाता दबाव वाला है, लेकिन इससे एलआईसी को कारोबारी दृष्टि से तालमेल में मदद मिलेगी. 
  • यदि माल्या ऋण वापस करना चाहते, तो उनके पास बहुत समय था : एमजे अकबर
    विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर ने कहा कि देश छोड़कर भाग चुके शराब व्यवसायी विजय माल्या यदि अपना बैंक ऋण चुकाना चाहते थे, तो उनके पास ऐसा करने के लिए बहुत साल का समय था. संवाददाताओं से बातचीत में अकबर ने कहा, ‘‘यदि माल्या बैंकों को भुगतान करना चाहते थे, तो मेरे हिसाब से ऐसा करने के लिए उनके पास बहुत-बहुत साल थे.’’
  • बैंक कर्ज नहीं चुकाने वालों की पहचान बन गया हूं मैं: विजय माल्या
    भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या ने कहा कि वह बैंकों का कर्ज नहीं चुकाने वालों की ‘पहचान’ बन गए हैं और उनका नाम आते ही मानों लोगों का गुस्सा भड़क जाता है. माल्या ने काफी समय बाद अपनी चुप्पी तोड़ते हुए एक बयान जारी किया है. इसमें उन्होंने कहा है कि वह दुर्भाग्य से जिस विवाद में घिरे हुए हैं उसकी ‘तथ्यात्मक स्थिति’ सामने रखना चाहते हैं.
  • मुद्रास्फीति पर अंकुश लगाने के लिए आरबीआई नीतिगत दरों में वृद्धि कर सकता है : एचएसबीसी
    भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) मुद्रास्फीति पर अंकुश लगाने के लिए के प्रमुख नीतिगत दरों में आगे और भी वृद्धि कर सकती है और इसके लिए गुंजाइश भी है. यह मानना है वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी एचएसबीसी का, जिसने अपनी एक ताजा रपट में यह बात कही है. 
  • रिजर्व बैंक ने बैंकों को एटीएम को अधिक सुरक्षित बनाने को कहा
    बैंकों द्वारा सुरक्षा मुद्दों पर धीमी प्रगति को गंभीरता से लेते हुए भारतीय रिजर्व बैंक ने अपने एटीएम का तय सीमासीमा में उन्नयन करने को कहा है. केंद्रीय बैंक ने कहा है कि यदि बैंक एटीएम को तय समय में अधिक सुरक्षित नहीं बनाते हैं तो उन्हें कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा. 
  • संसदीय समिति के सामने पेश होंगे 11 बैंकों के प्रमुख
    सार्वजनिक क्षेत्र के 11 बैंकों के वरिष्ठ अधिकारी मंगलवार को संसद की वित्तीय मामलों की स्थायी समिति के समक्ष पेश होंगे. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (पीएसबी) के अधिकारियों से भारी परिमाण में बैंकों के फंसे हुए कर्ज (एनपीए), खराब कर्ज और फर्जीवाड़ा के बढ़ते मामलों पर जवाब तलब किया जाएगा. 
  • IDBI बैंक में अपनी हिस्सेदारी बेच सकती है सरकार
    बीमा कंपनी लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) आईडीबीआई बैंक के शेयर खरीद सकती है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एलआईसी को इसके लिए सरकार की तरफ से मंजूरी मिलने का इंतजार है. आईडीबीआई बैंक (IDBI) में 40 से 43 फीसदी हिस्सेदारी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) को बेचने के प्रस्ताव पर सरकार विचार कर रही है. 31 मार्च के आंकड़ों के मुताबिक बैंक में सरकार की 80.96 फीसदी और एलआईसी की 10.82 फीसदी हिस्सेदारी है.  

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................