Profit
होम | बेंकिंग और फाइनेंशियल

बेंकिंग और फाइनेंशियल

  • बैंकों को फंसे कर्ज के मामले में 2019-20 तक झेलना पड़ सकता है दबाव
    बैंक अब गैर-कंपनी वर्ग में संपत्तियों की गुणवत्ता को लेकर दबाव देख रहे हैं. इस लिहाज से बैंकों को कुल मिलाकर फंसे कर्ज के मामले में 2019-20 तक दबाव झेलना पड़ सकता है.
  • एमएसएमई को कर्ज : सरकारी बैंकों की हिस्सेदारी में निजी बैंकों ने लगाई सेंध
    सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) को दिये गए कर्ज में जून माह में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (पीएसयू) का हिस्सा घटा और इसके विपरीत निजी बैंकों एवं गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) की हिस्सेदारी में वृद्धि हुई. एक रिपोर्ट में यह बात सामने आयी है
  • यूनियन बैंक समेत तीन बैंकों पर लगा एक-एक करोड़ रुपये का जुर्माना, ये है वजह 
    भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने धोखाधड़ी को पकड़ने में देरी और समय पर इसके बारे में जानकारी नहीं देने के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के तीन बैंकों यूनियन बैंक आफ इंडिया (यूबीआई), बैंक आफ इंडिया (बीओआई) तथा बैंक आफ महाराष्ट्र (बीओएम) पर एक-एक करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है.
  • 32.41 करोड़ जनधन खाताधारकों के लिए अच्छी खबर, मोदी सरकार ने बढ़ाई ओवरड्राफ्ट की सुविधा
     केंद्र सरकार ने गुरुवार को कहा कि प्रधानमंत्री जनधन योजना (पीएमजेडीवाई) को अनिश्चित काल तक के लिए जारी रखने को मंजूरी प्रदान की गई है. साथ ही, इसके दायरे में विस्तार करते हुए दुर्घटना बीमा को दोगुना और उम्र की सीमा में पांच साल की छूट दी गई है
  • एसबीआई ने एमसीएलआर दर 0.2% बढ़ाई,  आवास और वाहन ऋण महंगा
    बैंक के इस कदम से आवास, वाहन और अन्य ऋण महंगे होंगे. नयी दरें शनिवार से प्रभावी होंगी.
  • NPA खातों की जांच करें या कार्रवाई के लिये तैयार रहें, सरकार ने बैंक अधिकारियों को दी चेतावनी
    बैंक प्रमुखों को चेतावनी देते हुये कहा गया है कि इन खातों में यदि बाद में धोखाधड़ी का पता चलता है तो उनके खिलाफ आपराधिक साजिश की कार्रवाई की जा सकती है.
  • स्वतंत्रता दिवस पर जनधन खाताधारकों को मिलेगी सौगात, कई सुविधाओं की घोषणा कर सकते हैं PM मोदी
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस सप्ताह स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए 32 करोड़ से अधिक जनधन खाताधारकों के लिये विभिन्न लाभों की घोषणा कर सकते हैं. इसका मकसद सरकार के वित्तीय समावेश अभियान को मजबूती प्रदान करना है. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. 
  • एक्सिस बैंक का मुनाफा 46 फीसदी गिरा
    एक्सिस बैंक के मुनाफे में वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में 46 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई, जिसकी बड़ी वजह उच्च स्तर की गैर निष्पादित संपत्तियां (एनपीए) रहीं. बैंक के मुताबिक, समीक्षाधीन तिमाही में उसका मुनाफा 701 करोड़ रुपये रहा, जोकि एक साल पहले की समान अवधि में 1,306 करोड़ रुपये था. 
  • एसबीआई (SBI) ने बढ़ाई ब्याज दरें (Interest Rates), एफडी (Fixed Deposits FD) पर मिलेगा ज्यादा ब्याज
    देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने आज से सावधि जमा (Fixed Deposits) के लिए अपनी ब्याज दरें बढ़ाने की घोषणा की है.  एसबीआई की साइट के मुताबिक बैंक ने सभी प्रकार के सावधि जमा पर ब्याज दरें बढ़ाई हैं. इसमें अलग अलग समय पर पूरी हो रही एफडी से लेकर सामान्य नागरिक और वरिष्ठ नागरिकों के लिए अलग अलग दरें हैं.
  • सभी बैंक कर्मियों के लिए आज बहुत बड़ा दिन, वेतन वृद्धि पर होगी बातचीत
    बैंक कर्मचारियों की वेतन वृद्धि के मुद्दे पर भारतीय बैंक संघ(आईबीए) और बैंक यूनियनों के बीच सोमवार को बैठक होगी. बैठक में सार्वजनिक, निजी एवं विदेशी बैंकों समेत करीब 37 बैंकों ने अपने कर्मचारियों के वेतन के बारे में निर्णय लेने का जिम्मा बैंकों के प्रबंधन का प्रतिनिधित्व करने वाले संगठन भारतीय बैंक संघ (आईबीए) को दिया है. 
  • इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक जल्द करेगा 650 शाखाओं के साथ शुरुआत
    इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) का अगस्त से परिचालन शुरू होने की उम्मीद है. बैंक की शुरूआत में 650 शाखाएं और करीब 17 करोड़ खाते होंगे. बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक से कामकाज शुरू करने की अनुमति मिल गई है. बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुरेश सेठी ने कहा, ‘‘हम परिचालन शुरू करने की उपयुक्त तारीख देख रहे हैं. परिचालन, तकनीक और बाजार की दृष्टि से हम कामकाज शुरू करने के लिए तैयार हैं.’’    
  • आईसीआईसीआई बैंक को 120 करोड़ रुपये का घाटा
    वित्त वर्ष 2018-19 की पहली तिमाही में निजी बैंक आईसीआईसीआई बैंक ने एकल आधार पर 120 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया है. बैंक ने पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 2,049 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया था. हालांकि 30 जून को खत्म हुई तिमाही में बैंक की ब्याज आय बढ़कर 6,102 करोड़ रुपये हो गई, जोकि वित्त वर्ष 2016-17 की पहली तिमाही में 5,590 करोड़ रुपये थी. 
  • हम उपभोक्ताओं का ब्योरा किसी संस्था को नहीं देते : पेटीएम
    भारतीय स्वामित्व वाली, नियंत्रित और घरेलू कंपनी होने का दावा करते हुए प्रमुख भुगतान कंपनी पेटीएम ने गुरुवार को कहा कि वह अपने उपभोक्ताओं की जानकारी किसी संस्था या इकाई को नहीं देती है और ना ही किसी विदेशी इकाई को इसका उपयोग करने की अनुमति देती है.
  • 100 रुपये का नया नोट आने से बढ़ी एटीएम ऑपरेटर की सिरदर्दी
    भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के 100 रुपये का नया नोट लाने की घोषणा से देश में ऑटोमेटेड टेलर मशीन (एटीएम) बनाने और आपूर्ति करने वाली कंपनियों में घबराहट पैदा हो गई है. विमुद्रीकरण के बाद 2,000 रुपये, 500 रुपये और 200 रुपये के नए नोटों के साथ-साथ 50 रुपये और 10 रुपये के जो नए नोट आए हैं वे पहले की अपेक्षा आकार में छोटे हैं. उसी प्रकार बैंगनी रंग में आने वाला 100 रुपये का नोट भी चलन में मौजूद नीले रंग के 100 रुपये की नोट से आकार में छोटा है. 
  • एचडीएफसी बैंक का मुनाफा 18.2 फीसदी बढ़ा
    चालू वित्त वर्ष की 30 जून को खत्म हुई तिमाही में एचडीएफसी बैंक के मुनाफे में 18.2 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है और यह 4,601.4 करोड़ रुपये रही, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में यह 3,893.84 करोड़ रुपये थी. 

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................