प्राइम टाइम : प्रदर्शनों की रचनात्‍मकता का नया दौर

PUBLISHED ON: April 21, 2017 | Duration: 40 min, 27 sec

   
loading..
आम लोगों के प्रदर्शनों और नेताओं के आयोजनों में कितनी रचनात्मकता आ गई है. हालांकि दोनों की रचनात्मकता में काफी अंतर है, दोनों की नैतिकता में भी अंतर है लेकिन बदलाव तो आ ही चुका है. पहले पदयात्रा हुआ करती थी, फिर वो रथयात्रा हुई, फिर वो रोड शो हुआ और अब रोड शो भी बदल गया है.
ALSO WATCH
बेटी बचाओ या बेटी छुपाओ? हरियाणा सरकार की पत्रिका पर विवाद

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................

................................ Advertisement ................................